What is sexual desire

AAजकल के तनावपूर्ण जिंदगी में यौन समस्याएं होना एक आम बात है। सिर्फ महिलाएं ही नहीं बल्कि पुरुष भी यौन समस्याओं से पीड़ित होते हैं। वैसे तो लोगों को विभिन्न प्रकार की यौन समस्याएं परेशान करती हैं लेकिन इनमें से एक सामान्य समस्या है सेक्स की इच्छा में कमी होना। जिसके चलते वैवाहिक जीवन प्रभावित होने लगता है और व्यक्ति डिप्रेशन में चला जाता है। यह समस्या सिर्फ लड़के लड़कियों में ही नहीं बल्कि शादीशुदा लोगों में भी बड़े पैमाने पर दिखायी देती है। लेकिन कई बार लोग इसे पहचान नहीं पाते हैं और ना ही इसका कारण जान पाते हैं। अगर आप भी ऐसी ही समस्या का सामना कर रहे हैं तो इस आर्टिकल में हम आपको यौन इच्छा की समस्या, कारण, लक्षण और उपचार के बारे में बताने जा रहे हैं।

यौन गतिविधियों में दिलचस्पी होना या शारीरिक जरुरतें पूरी करने के लिए संभोग करने की इच्छा को यौन इच्छा कहते हैं। यौन इच्छा व्यक्ति की कामुकता का एक पहलू है, जो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में महत्वपूर्ण रूप से भिन्न होता है, और किसी विशेष समय एवं परिस्थितियों के आधार पर भी भिन्न होता है। हर व्यक्ति को यौन इच्छा महसूस नहीं होती है। जिन लोगों को सेक्स करने का मन नहीं करता आमतौर पर उन्हें सामान्य नहीं माना जाता है।

यौन इच्छा पुरुषों और महिलाओं के जीवन में सबसे आम यौन क्रिया हो सकती है। आमतौर पर यौन इच्छा किसी व्यक्ति की व्यक्तिगत भावना और आंतरिक एवं वाह्य संकेतों पर भी निर्भर करती है। यौन इच्छा को यौन कल्पनाओं के माध्यम से भी जागृत किया जा सकता है। यौन इच्छा सकारात्मक एवं नकारात्मक दोनों तरह की हो सकती है। यह व्यक्ति पर निर्भर करता है कि वह यौन इच्छा जागृत होने पर उसका कितना सही इस्तेमाल करता है। आमतौर पर किसी व्यक्ति को चूमने, चाटने, सहलाने और छूने से भी यौन इच्छा पैदा होती है।

What is sexual desire

यौन इच्छा विकार क्या है

यौन इच्छा में कमी की समस्या एक मनोचिकित्सकीय स्थिति है जिसके कारण व्यक्ति को लंबे समय तक शारीरक संबंध बनाने की इच्छा नहीं होती है। यौन इच्छा विकार दो तरह का होता है। पहला महिलाओं में सेक्स के प्रति रुचि घटना और दूसरा पुरुषों में हाइपोएक्टिव सेक्सुअल डिजायर डिसऑर्डर। दोनों ही मामलों में यौन रुचि का स्तर कम हो जाता है जिसके कारण व्यक्ति शारीरिक संबंध बनाने के लिए पहल नहीं करता है। इस विकार से पीड़ित व्यक्ति को सेक्स से जुड़े विचार और कल्पनाएं नहीं आती हैं जिसके कारण यौन गतिविधि के दौरान वह आनंद नहीं ले पाता है।

महिलाओं में यौन इच्छा की कमी के लक्षण

आमतौर पर पुरुषों एवं महिलाओं दोनों में यौन इच्छा की कमी की समस्या होती है। इसके लक्षणों को बहुत आसानी से देखा जा सकता है। आइये जानते हैं महिलाओं में यौन इच्छा कम होने पर इन्हें किन लक्षणों से पहचानते हैं।

  • यौन गतिविधियों में दिलचस्पी घट जाना।
  • मन में सेक्स करने का विचार या यौन कल्पनाएं ना आना।
  • यौन क्रिया की इच्छा बिल्कुल भी न होना।
  • सेक्स की बात न करना और ना ही पहल करना।
  • अपने पार्टनर से शारीरिक लगाव बेहद कम होना।
  • जननांगों में संवेदना का अनुभव न होना।
  • अगर ये लक्षण दिखायी देते हैं तो इसका अर्थ यह है कि महिला की सेक्स करने की इच्छा नहीं होती है।

पुरुषों में यौन इच्छा कम होने के लक्षण

महिलाओं की तरह पुरुषों में भी यौन इच्छा की कमी देखी जा सकती है।

  • किसी महिला की तरफ आकर्षण नहीं होना।
  • अपने पार्टनर या किसी अन्य महिला के साथ संभोग करने का मन न होना।
  • सेक्स गतिविधियों में भाग न लेना।
  • पार्टनर द्वारा पहल करने के बाद भी सेक्स में कोई रुचि न दिखाना।

  • यौन इच्छा में कमी के कारण
    यौन इच्छा में परिवर्तन होना स्वाभाविक है और यह व्यक्ति के अपने अच्छे या खराब यौन अनुभवों एवं पार्टनर के साथ अपने संबंधों पर भी आधारित होता है। अगर छह महीने से अधिक समय तक सेक्स करने की इच्छा न हो या यौन गतिविधियां अच्छी न लगती हों तो इसके पीछे विशेष कारण हो सकता है। आइये जानते हैं यौन इच्छा में कमी का क्या कारण हो सकता है।

यौन इच्छा में कमी का उपचार

यौन इच्छा विकार के उपचार में मनोचिकित्सा और दवा शामिल हो सकते हैं। इस समस्या के उपचार के लिए महिलाओं को फ्लिबेनसेरीन नामक दवा दी जाती है। जबकि कई बार इस समस्या से पीड़ित दंपत्ति को थेरेपी देकर उसकी सेक्सुअल गतिविधियों को बढ़ाया जाता है। वास्तव में यौन इच्छा में कमी के कई कारण होते हैं इसलिए कारणों के आधार पर ही उपचार भी किया जाता है। इसके अलावा कपल्स को बेहतर सेक्स के बारे में जानकारी दी जाती है और उन्हें अपनी जीवनशैली में बदलाव करने की भी सलाह दी जाती है।

You Might Also Like

Leave Comments